BHIM app: आइए जानते है इसकी खूबियाँ

Modi launched BHIM app based on UPI

By: | In: हिन्दी |

पिछले सप्ताह प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने एक नया डिजिटल पेमेंट एप जिसका नाम ‘भीम’ है लांच किया। भीम का अर्थ – भारत इंटरफ़ेस फ़ॉर मनी (Bharat Interface for Money — BHIM) जिसका अर्थ हिंदी में “मुद्रा के लिए भारत अंतराफलक ” है। यह नाम श्री भीमराव रामजी आंबेडकर के सम्मान में रखा गया।

सबसे अच्छी बात यह है कि ये एप  ना ही सिर्फ एंड्राइड यूज़र्स के लिए है बल्कि इसका उपयोग आई.ओ.एस  (iOS) और विंडोज मोबाइल यूज़र्स भी कर सकते हैं। इस एप का उपयोग आप अपने आधार कार्ड के सहायता से कर सकते हैं, जहां बस अपने अंगूठे के निशान की आवश्यकता पड़ती है।

Advertisement

1. भीम एप का उपयोग

भीम एक डिजिटल पेमेंट एप है जोकि यू.पि.आई अर्थात यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफ़ेस पे आधारीत है। इस एप की सहायता से किसीको पैसे भेजना और किसी से पैसे मंगवाना दोनों संबभ है, IFSC कोड की सहायता से भी पैसे भेजे जा सकते हैं।

2.भीम एप और अन्य दुसरे एप जैसे ‘पेटीऍम’ में अंतर

अन्य दुसरे एप में एक निर्धारित सीमा तक ही पैसे जमा करवा सकते हैं जबकि वोही दूसरी ओर भीम एप , आम जनता के सीधे बैंक खातों से जुडी है जिसका अर्थ यह है कि कोई निर्धारित सीमा नहीं है, और खाताधारक इस एप का पूर्ण लाभ उठा सकते हैं।

3. भीम एप और इससे जुड़े बैंक

अलाहबाद बैंक,आंध्र बैंक,एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ़ बरोदा, बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र, कैनरा बैंक, सी.बी.आई , देना बैंक, फ़ेडरल बैंक, एच. डी. एफ. सी , सिंडिकेट बैंक, विजया बैंक , आई.सी.आई.सी.आई बैंक इत्यादि और कईं बैंक इस एप से जुड़े हैं और सर्कार के इस अहम् कदम को सफल बनाने में अपना योगदान दे रहे हैं।

अंततः यह कहना उचित होगा की सरकार के द्वारा उठाया गया कदम अत्यंत सराहनीय है और साथ ही लोगों के हित में भी। इसी के साथ ना ही सिर्फ शहर बल्कि गाओं में जो लोग रहते हैं उनको भी जोड़ने का प्रयास किया है। कोशिश यही की जा रही है कि ज्यादा से ज्यादा खरीदारी कार्ड और इन ऑनलाइन एप के माध्यम से की जाए ताकि खुदरा बिक्री की जरूरत कम से कम पड़े। अब कुछ दिनों में यह साफ़ हो जायेगा की सरकार का यह साहसिक कदम कितना सफल हुआ।।

Be First to Receive Useful & Interesting Emails You are 100% Secure as per our Privicy Policy

Also See:

Need Help? For instant and detailed answer ask your question at Isrg Forum

Related Articles