BHIM App Kaise Kaam Karta Hai

BHIM App Kaise Kaam Karta Hai

By: | In: हिन्दी |

अभी चंद रोज पहले माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा भीम नामक एप की शुरुवात की गई। इस एप की सहायता से किसी को भी कभी भी पैसे भेजना या मंगवाना अत्यंत सरल हो गया है। तो आइये जानते है इस एप को कैसे सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए।

1. खाते से कैसे जोड़े

 

Advertisement

सबसे पहले अगर आपका मोबाइल नंबर आपके बैंक खाते से जुड़ा है तो यह एप आपके मोबाइल नंबर की वैधता की जाँच करेगा। आपके मोबाइल नंबर के वैद्य होने के बाद आपको अपने बैंक को चुनने के लिए कहा जायेगा। इस बात को ध्यान में रखा जाये की आप जिस भी बैंक का चुनाव करेंगे, भविष्य में आप उसी बैंक के खाते से लेन-देन कर पाएंगे। इस प्रक्रिया के पूर्ण हो जाने के बाद आपको अपने एप से जुड़े खाते की सुरक्षा के लिए चार अंको का एक पासकोड बनाने के लिए कहा जाएगा। यह बात ध्यान में रखे की कोई ऐसा पासकोड बनाये जिसको आपके लिए याद रखना आसान हो।

2. यू.पी.आई की सक्रियता

इस प्रक्रिया के पूर्ण हो जाने के बाद अगर आपके बैंक खाते में यू. पी. आई सक्रिय है तो सीधा आप पैसे भेजने या किसी से पैसे पाने के लिए तैयार है अथवा आप IFSC कोड के माध्यम से भी लेन-देन कर सकते हैं, लेकिन अगर यू.पी.आई सक्रिय नहीं है तो आपको अपने डेबिट कार्ड के छह अंको को डालना होगा, साथ में आपको अपने कार्ड की समाप्ति तिथि का भी ब्यौरा देना पड़ेगा जिसके बाद आप इस एप का उपयोग कर पाएंगे।

3. कैसे भेजें पैसे

पैसे भेजने के लिए , जिसको पैसे भेजना चाहते हैं उनका मोबाइल नंबर डालें, इसके बाद भीम एप उस नंबर की वैद्यता की जांच करेगा, वैद्य बताने के बाद आप राशि भर के पैसे भेज सकते हैं। अगर जिनको आप पैसे भेजना चाह रहे हैं उनके पास यू.पी.आई नहीं है तब पैसे भेजने वाले ऑप्शन के ऊपर जो तीन बिंदु है उनको क्लिक करें और उसमें से ACCOUNT+IFSC नामक ऑप्शन का चयन कर वहां पे सारी जानकारी भर दें।

अभी यह एप फिलहाल अपने शुरुवाती दौड़ में है, थोड़े दिनों में इस बात का भी पता चल जायेगा की बांकी अन्य एप जैसे पेटीएम और मोबिक्विक जैसे एप्स के होते हुए सरकार की यह कोशिश कितनी सार्थक साबित होती हैं।।

Be First to Receive Useful & Interesting Emails You are 100% Secure as per our Privicy Policy

Also See:

Need Help? For instant and detailed answer ask your question at Isrg Forum

Related Articles